जनपद के बेरोजगार युवाओं एवं स्वरोजगार के क्षेत्र में कार्य करने के इच्छुक व्यक्तियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार की अध्यक्षता में वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास (होम स्टे) योजना के अंतर्गत जिला स्तरीय स्क्रीनिंग समिति की बैठक आयोजित की गई जिसमें आॅनलाइन आवेदन किए गए बेरोजगार युवाओं एवं अन्य व्यक्तियों का साक्षात्कार लिया गया।

जिला स्तरीय स्क्रीनिंग समिति की बैठक में वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के तहत वाहन मद में 02 आवेदन पत्र प्राप्त हुए हैं तथा गैर वाहन मद में 03 आवेदन पत्र आॅनलाइन के माध्यम से उपलब्ध कराए गए थे तथा दीनदयाल उपाध्याय होम स्टे योजना के अंतर्गत 05 आवेदन पत्र उपलब्ध कराए गए। इस प्रकार वाहन मद, गैर वाहन व होम स्टे योजना में कुल 10 आवेदन प्राप्त हुए हैं तथा सभी आवेदनकर्ता साक्षात्कार में उपस्थित हुए एवं सभी 10 आवेदन पत्रों पर समिति द्वारा संस्तुति की गई।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित आवेदनकर्ताओं से कहा कि सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि बेरोजगार युवाओं एवं व्यवसाय करने वाले व्यक्तियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है जिससे कि उनकी आर्थिकी को मजबूत किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस योजना के लिए आवेदन किया गया है उसी में नियमानुसार अपना व्यवसाय करना सुनिश्चित करें। उन्होंने होम स्टे योजना के तहत आवेदनकर्ताओं से कहा कि होम स्टे योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए एवं आने वाले पर्यटकों को वाहन पार्किंग की कोई समस्या न हो इसके लिए सभी व्यवसाय अपने-अपने होम स्टे में पार्किंग की व्यवस्था अनिवार्य रूप से सुनिश्चित कर ली जाए। इसके साथ ही होम स्टे में पानी की व्यवस्था शौचालय की समुचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए।

जिला स्तरीय स्क्रीनिंग समिति की बैठक में जिला पर्यटन अधिकारी राहुल चौबे, महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र महेश प्रकाश, लीड बैंक अधिकारी चतर सिंह, परिवहन विभाग से भूपेंद्र रावत, संजय मेहरा सहित संबंधित अधिकारी एवं आवेदनकर्ता मौजूद रहे।