रुद्रप्रयाग : लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 को निष्पक्ष, पारदर्शिता एवं शांतिपूर्वक ढंग से संपादित करने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में अनुसूया प्रसाद बहुगुणा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय अगस्त्यमुनि में 70 पोलिंग पार्टियों को दो चरणों में मास्टर ट्रेनरों द्वारा प्रशिक्षण उपलब्ध कराया गया जिसमें कुल 20 सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं 280 पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय मतदान अधिकारियों को द्वितीय चरण के द्वितीय दिवस पर भी प्रशिक्षण उपलब्ध कराया गया।
आयोजित प्रशिक्षण के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया को संपन्न कराने में किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है तथा सभी कार्मिक टीम भावना एवं निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार ही अपने दायित्वों का निर्वहन करें। जिससे कि स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के साथ निर्वाचन संपन्न करवाया जा सके। उन्होंने कहा कि आयोग के जो भी दिशा-निर्देश हैं उन निर्देशों को सभी अधिकारी भली-भांति अध्ययन कर लें एवं किसी प्रकार की कोई समस्या एवं परेशानी होने पर उच्च अधिकारियों से तत्पर समाधान कर लें। उन्होंने कहा कि प्रारूप-17ए एवं प्रारूप-17सी एवं ईवीएम मशीन के बारे में ठीक तरह से जानकारी प्राप्त कर लें ताकि निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित कराने में किसी तरह की समस्या न होने पाए। उन्होंने यह भी कहा कि माकपोल प्रक्रिया को संपादित करने में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है तथा सभी अभिकर्ताओं के समक्ष माकपोल की प्रक्रिया संपन्न कराइ जाए एवं ईडीसी के माध्यम से जो भी कार्मिकों द्वारा मतदान कराए जा रहे हैं उसकी भी पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने पीडीएमएस के संबंध में कहा कि एसएमएस के माध्यम से समय-समय पर जो भी निर्वाचन प्रक्रिया के संबंध में सूचनाएं प्रेषित की जानी हैं उन्हें भी तत्परता से कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने उपस्थित कार्मिकों से कहा कि सभी अपने दायित्वों का निर्वहन निर्भीक होकर करें।
इस अवसर पर जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे अधिकारियों एवं कार्मिकों को उपलब्ध कराए जा रहे भोजन की गुणवत्ता का भी जायजा लिया। उन्होंने नोडल अधिकारी खानपान/जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि कार्मिकों को उपलब्ध कराए जा रहे भोजन की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही एवं ढिलाई न बरती जाए। इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित करने में लगे कार्मिकों के द्वारा किए जा रहे कार्यों का भी जायजा लिया।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने वेबकास्टिंग हेतु जिन मतदान केंद्रों में वेबकास्टिंग की जानी है इसके लिए केदारनाथ विधान सभा में तैनात 49 कार्मिकों को वेबकास्टिंग के संबंध में संबोधित करते हुए कहा कि सभी कार्मिक अपने दायित्वों का निर्वहन ससमय करें तथा निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार अपने दायित्वों का निर्वहन करें।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी/उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम सिंह राणा ने ईवीएम मशीन के संचालन में व्यवहारिक प्रशिक्षण का जायजा लेते हुए सभी कार्मिकों से कहा कि सभी कार्मिक ईवीएम संचालन, वीवीपैट्स एवं सिलिंग प्रक्रिया के संबंध में ठीक तरह से प्रशिक्षण प्राप्त कर लें, ताकि निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित कराने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या उत्पन्न न होने पाए।
नोडल अधिकारी वेबकास्टिंग/खंड विकास अधिकारी प्रवीण भट्ट ने उपस्थित कार्मिकों से कहा कि वह अपने दायित्वों का निर्वहन कुशलता के साथ करेंगे तथा उन्हें जो प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जा रहा है उसे गंभीरता से लें। उन्होंने कहा कि जनपद की दोनों विधान सभाओं में 181 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जानी हैं जिसके लिए 121 कार्मिक तैनात किए गए हैं जिसमें केदारनाथ विधान सभा की 86 एवं रुद्रप्रयाग विधान सभा की 95 मतदान केंद्र सम्मिलित हैं।

मास्टर ट्रेनर/मुख्य कृषि अधिकारी लोकेन्द्र सिंह बिष्ट ने निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित कराने के लिए तैनात किए गए अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण के दौरान कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित कराने के लिए जो भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है उसे सभी कर्मचारी गहनता के साथ ग्रहण करें ताकि निर्वाचन प्रक्रिया संपादित करवाते समय किसी भी प्रकार का कोई व्यवधान न हो। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया को संपन्न कराने के लिए नियुक्त सभी अधिकारी-कर्मचारी टीम भावना के साथ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें।
मास्टर ट्रेनर मनोज सिंह बिष्ट ने ईवीएम एवं वीवीपैट के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कंट्रोल यूनिट एवं बैलेट यूनिट पर लगाए गए एड्रेस टैग की जांच कर सुनिश्चित कर लें कि कंट्रोल यूनिट एवं बैलेट यूनिट आपके मतदान केंद्र की ही है। कंट्रोल यूनिट का पावर स्विच आॅफ व स्विच आॅन कर जांच कर लें कि बैटरी पूरी तरह से चार्ज है तत्पश्चात स्विच आॅफ कर लें।
इस अवसर पर ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित रावत ने पीडीएमएस के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि एसएसएस के माध्यम से सूचनाएं आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए 9223166166 नंबर पर एसएमएस कब और कैसे भेजे जाने हैं इस संबंध में विस्तार से जानकारी उपलब्ध कराई गई।
निर्वाचन कार्य में तैनात किए गए कार्मिकों द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए 60 कार्मिकों द्वारा प्रारूप-12 क तथा 03 कार्मिकों द्वारा फार्म-12 जमा कराया गया। इस अवसर पर मतदान कार्मिकों को मतदान की शपथ भी दिलाई गई।
इस अवसर पर उप जिलाधिकारी/सहायक रिटर्निंग अधिकारी 07-केदारनाथ अनिल कुमार शुक्ला एवं 08-रुद्रप्रयाग आशीष कुमार घिल्डियाल, उप जिलाधिकारी जखोली भगत सिंह फोनिया, मुख्य शिक्षा अधिकारी प्रमेंद्र सिंह बिष्ट, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज कुमार डोभाल, अभिहीत अधिकारी मनोज कुमार सेमवाल, मास्टर ट्रेनर अशोक कंडवाल, राजू लाल सहित सेक्टर अधिकारी, पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय मौजूद रहे।