वाहन चोरी की घटना का अनावरण हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये । जिसके क्रम में थानाध्यक्ष रायपुर द्धारा 02 पुलिस टीम गठित की गयी ।

घटनास्थल के आसपास लगभग सीसीटीवी कैमरों का अवलोकन किया गया, पूर्व में वाहन चोरी में प्रकाश में आये वाहन चोरों का सत्यापन कर उनके अध्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की गयी । पुलिस टीम द्वारा पुराने वाहन चोरों का सत्यापन करते हुये घटना के आस पास लगे करीब 42 सी0सी0टी0वी0 कैमरो को चैक करते हुये संदिग्धों के फोटोग्राफ्स प्राप्त कर लगातार मैनुवली कार्य करते हुए सुरागरसी/पतारसी की गयी । जिसमें एक अभियुक्त का हुलिया प्राप्त कर उक्त व्यक्ति की जानकारी प्राप्त की गयी तो पता चला उक्त व्यक्ति को उसके घर वालों ने काफी समय से नशे की लत के कारण निकाला हुआ है, जो अपने घर नही आता है तथा अपने अन्य नशे के आदी दोस्तों के साथ घूमता फिरता रहता है।

पुलिस टीम द्वारा सीसीटीवी फुटैज व अन्य व्यक्तियों से पूछताछ करने पर उसके आने-जाने देहरादून के विभिन्न स्थानों पर घूमने की समय की जानकारी की गयी जिससे महत्वपूर्ण जानकारी मिली उक्त व्यक्ति दिन के समय प्राय सहस्त्रधारा क्रासिंग की तरफ आया जाया करता है, जिस पर गठित पुलिस टीम द्वारा सतर्क दृष्टि रखते हुए आने जाने वाले वाहनों को चैक करते हुए आज शान्ति विहार रायपुर के पास से अभियुक्त सूरज भण्डारी को मय चोरी की मोटर साईकिल सं0 UK07AZ-9178 (स्पलेण्डर) के साथ गिरफ्तार किया गया।

अभियुक्त से पूछताछ करने पर उसके द्वारा उक्त वाहन के अतिरिक्त रायपुर थाने से सम्बन्धित चोरी की गयी 02 स्कूटी, कोतवाली नगर देहरादून से चोरी की गयी 01 स्कूटी व कोतवाली डोईवाला देहरादून से चोरी की गयी 01 मोटर साईकिल को चोरी करना स्वीकार करते हुए लाडपुर जंगल से 04 अन्य वाहन बरामद कराये गये तथा एक वाहन कोतवाली क्षेत्र से चोरी कर बालावाला क्षेत्र में छोडना बताया गया, जिसकी जानकारी करने पर पाया गया कि उक्त वाहन बालावाला चौकी में लावारिस में दाखिल है। अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेजा गया।

अभियुक्त नशे का आदि है, जो पूर्व में भी चोरी के मामले में जेल जा चुका है।

अभियुक्त द्वारा पूछताछ में बताया गया कि उसने बीसीए किया हुआ है, जिसका एक छोटा बच्चा है, लेकिन नशे की लत के कारण उसकी अपने परिवार से नही बनती है तथा उसके परिजनों ने उसे घर से निकाल रखा है, अपने नशे की पूर्ति के लिए वह वाहन चोरी व अन्य छोटी-2 चोरियाँ करता है।