लोकसभा सामान्य निर्वाचन को सकुशल संपन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी हिमांशु खुराना की उपस्थिति में पीजी कॉलेज और राइका गोपेश्वर में मंगलवार को पीठासीन अधिकारियों एवं प्रथम मतदान कार्मिकों का प्रथम प्रशिक्षण शुरू हो गया है। मतदान कार्मिकों को दो पालियों में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिसमें मतदान का सामान्य प्रशिक्षण और ईवीएम व वीवीपैट का व्यावहारिक प्रशिक्षण शामिल है। दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में 1624 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। पहले दिन 400 कार्मिकों को पीजी कॉलेज और 400 कार्मिकों को राइका गोपेश्वर में प्रशिक्षण दिया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतदान कार्मिकों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत विश्व का सबसे बडा लोकतांत्रिक देश है। देश की निर्वाचन प्रक्रिया में शामिल होना हम सबके लिए गर्व की बात है। उन्होंने सभी मतदान कार्मिकों को पूरे मनोयोग से निर्वाचन के सभी पहलुओं से संबंधित प्रशिक्षण गहनता से पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर निर्वाचन, एक नया निर्वाचन होता है, नए निर्देश होते है। आयोग के दिशा निर्देशों का भलीभांति अध्ययन करते हुए प्रशिक्षण के दौरान अपनी सभी शंका और संशय का समाधान करें। पोलिंग स्टेशन के लिए निर्धारित रूट प्लान के अनुसार ही मूवमेंट करें। किसी का आतिथ्य स्वीकार न करें। उन्होंने बताया कि जनपद के 50 प्रतिशत मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की जाएगी। शैडो एरिया वाले बूथों पर वीडियोग्राफी कराई जाएगी। किसी को भी मतदेय स्थल पर मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए मतदान कार्मिकों को पूरा सहयोग प्रदान किया जाएगा।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी अभिनव शाह ने सभी मतदान कार्मिकों को पोस्टल बैलेट और ईडीसी से अनिवार्य रूप से मतदान करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निर्वाचन ड्यूटी पर तैनात जनपद चमोली के कार्मिक ईडीसी के माध्यम से अपना वोट करेंगे और अन्य जनपद एवं राज्यों के कार्मिक को पोस्टल बैलेट की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी मतदान कार्मिक अपने सेक्टर ऑफिसर के संपर्क में रहे और कोई भी संशय होने पर तत्काल अपने सेक्टर अधिकारी को इसकी जानकारी दे और इसका समाधान करें। इस दौरान स्वीप कार्यक्रम के जिला समन्वय कुलदीप गैरोला ने जनपद में स्वीप गतिविधियों के बारे में जानकारी देते हुए मतदान कार्मिकों से प्रशिक्षण संबधी सवाल और उनका समाधान किया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में मास्टर ट्रेनर प्रवक्ता एपी डिमरी, मनोज तिवारी, जयदीप झिंक्वाण, दिगपाल रावत, केसी पंत, जयवीर रावत एवं विनोद रावत ने पीजी कॉलेज एवं राइका गोपेश्वर में पीठासीन एवं प्रथम मतदान अधिकारियों को मतदान का सामान्य प्रशिक्षण के साथ ही ईवीएम मशीन की तकनीकी, प्रयोग तथा ईवीएम मशीन हैंडलिंग, व्यावहारिक जानकारी दी। प्रशिक्षण में ईवीएम मशीन की बैलेटिंग यूनिट तथा कन्ट्रोल यूनिट को जोड़ने व अलग करने तथा मतदान के दौरान मशीन का संचालन व सावधानियों की विस्तार से जानकारी मॉस्टर ट्रेनरों द्वारा दी जा रही है। मतदान केन्द्रों तक मशीन ले जाने, मतदान के उपरान्त मशीन सील करने तथा स्ट्रांग रूम तक मशीन को सुरक्षित पहुॅचाने प्रशिक्षण दिया जा रहा है।