होली के त्योहार के दृष्टिगत खाद्य सुरक्षा विभाग द्वारा व्यापक अभियान चलाकर जनपद के अंतर्गत संचालित मिठाइयों, बेकरी एवं परचूनी दुकानों का सघन निरीक्षण किया गया। अभियान के तहत जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में खाद्य प्रतिष्ठानों में औचक निरीक्षण के दौरान संदेह वाले नमूनों को खाद्य विश्लेषणशाला को जांच हेतु भेज दिया गया है।

अभिहीत अधिकारी मनोज कुमार सेमवाल ने उक्त आशय की जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि होली के त्योहार के दृष्टिगत जनपद के अंतर्गत विभिन्न प्रतिष्ठानों में व्यापक रूप से सघन अभियान चलाले हुए रुद्रप्रयाग मार्केट, तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि, भीरी एवं ऊखीमठ क्षेत्र में खाद्य प्रतिष्ठानों के औचक निरीक्षण किए गए। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान 04 प्रतिष्ठानों में संदेह के आधार पर गुजिया, बेकरी बिस्कुट, गुलाब जामुन एवं बतीसा के नमूने लिए गए, जिन्हें जांच हेतु खाद्य विश्लेषणशाला को जांच हेतु भेजा गया है। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। साथ ही सभी खाद्य कारोबारकर्ताओं को स्वच्छता मानकों का पालन करने गुणवत्तापूर्वक खाद्य पदार्थों का क्रय-विक्रय करने के कठोर निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही कारोबारियों को एक्सपायरी खाद्य पदार्थों को प्रतिष्ठान में न रखने तथा खाद्य रंगों का प्रयोग मानक के अनुसार करने के निर्देश दिए गए हैं।
उन्होंने बताया कि विगत त्योहारी सीजन में भरा गया सूजी का नमूना अधोमानक पाया गया था जिसके तहत कारोबारी के विरुद्ध खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम-2006 के तहत कार्यवाही की गई। उन्होंने कहा कि सघन अभियान निकट भविष्य में भी लगातार जारी रहेगा।
सघन अभियान के दौरान वरिष्ठ खाद्य सुरक्षा अधिकारी दिलीप कुमार जैन, सतवीर रावत आदि शामिल रहे।