अकबरपुर फाजिलपुर थाना झबरेडा निवासी सोनू कुमार ने अपनी मां सावित्री देवी को घेर में मृत अवस्था में पाया। अन्तिम संस्कार से पूर्व शव को नहलाने की प्रक्रिया के दौरान गले में फंदे के निशान पाए जाने पर मामला संदेहास्पद होने के चलते पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मृतका के शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा व पी0एम0 की कार्यवाही की गयी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार करने के साथ ही संदिग्ध प्रकरण की जांच में जुटी टीम की पड़ताल में सामने आया कि मृतका के बेटे-बहु के बीच काफी समय से अनबन है, साथ ही बहु के किसी अन्य पुरुष के साथ प्रेम संबंध भी थे। बहु-बेटे के झगड़ो से अज़ीज़ आकर मृतका घर से करीब 200-400 मीटर की दूरी पर स्थित घेर पर अकेले निवास कर रही थी।

झबरेड़ा पुलिस को अस्पताल से पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्राप्त हुई जिसमें चिकित्सकों ने अपनी राय स्पष्ट करते हुए मृत्यु का कारण गला घोंटना बताया गया। रिपोर्ट की जानकारी होने पर मृतका के पुत्र सोनू कुमार द्वारा अपनी पत्नी पर हत्या का शक जताते हुए दिए गए शिकायती प्रार्थना पत्र के आधार पर थाना झबरेड़ा पर हत्या की धारा 302 भा.द.वि. में मु0अ0सं0-73/2024 पंजीकृत किया गया।

अब तक जुटाई गई जानकारी का पता चलने पर मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल द्वारा निर्देशन का जिम्मा एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह को सौंपते हुए मुकदमें की विवेचना कर रहे एसओ झबरेडा के नेतृत्व में टीम गठित कर मामले का साफगोई से खुलासा करने के निर्देश दिए।

प्रकाश में आए तथ्यों के आधार पर प्रकरण के संदेहास्पद चरित्र (मृतका की बहु) से गहराई से पूछताछ की गयी तो सारा घटनाक्रम खुलकर सामने आ गया।

शादी के 05 साल होने के बाद भी मृतका की बहु विगत काफी समय से मां नही बन पा रही थी जिसका इलाज देहरादून और हरिद्वार के अस्पतालों से चल रहा था लेकिन कोई भी सकारात्मक रुझान नही मिला। इसी दौरान आधार कार्ड में बदलाव कराते समय कथित बहु, आधार कार्ड सेन्टर में कार्यरत जौनी नाम के युवक के संपर्क में आयी। ये पहचान धीरे-धीरे प्रेम एवं अवैध सम्बन्ध में बदल गई जिसकी जानकारी मृतका को हो गयी थी। सास द्वारा बदनाम करने का डर दिखा कर कथित प्रेमी से सम्बन्ध तोडने के लिए लगातार मजबूर करने पर इन सब चीजों से छुटकारा पाने के लिए बहु ने ये खौफनाक कदम उठाया।

हत्या के लिए कथित बहु और उसके प्रेमी (जौनी) ने योजना तैयार की जिसमें बहु ने दिनांक-14.02.2024 को जाकर चुपके से अपनी सास के घेर के दरवाजे की कुंडी तोड दी और प्रेमी जौनी द्वारा उपलब्ध करायी गई नींद की गोलियां खाने में मिलाकर सास को दे दी। दिनांक-14.02.2024 को ही परिवार में शादी का संगीत का कार्यक्रम था। रात 11.30 बजे संगीत कार्यक्रम खत्म होने पर बहु अपनी सास के घेर के अंदर गयी और चुपके से (कुंडी पहले से टूटे होने के कारण) दरवाजे से अंदर आ गई और नींद के आगोश में सोई हुई सास का उसी के दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या कर दी।

पुलिस टीम ने हत्यारोपी बहु द्वारा अपने प्रेमी से की गई बातचीत के वैज्ञानिक/इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी संकलित कर पुख्ता सबूत इकट्ठा किए गए हैं। पुलिस टीम ने दबिश देकर हत्या में शामिल कथित प्रेमी को दबोचकर हत्या में प्रयुक्त दुपट्टा व नशे की गोलियां भी बरामद की। घटना में इस्तेमाल दुपट्टा, मोबाइल आदि बरामद होने एवं अभियुक्त जौनी का नाम प्रकाश में आने पर मुकदमें में धारा 201 व 120बी आईपीसी की बढ़ोत्तरी की गई है।

थाना झबरेड़ा व अन्य थाना पुलिस द्वारा पिछले कुछ समय में किए गए एक से बढ़कर एक शानदार खुलासों पर स्थानीय जनता द्वारा हरिद्वार पुलिस की कार्यशैली की मुक्त कंठ से प्रशंसा की गई।