महिला सशक्तिकरण को लेकर मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी आगामी 07 फरवरी को गौचर में मातृशक्ति सम्मेलन करेंगे। जिसमें जनपद चमोली के सभी विकास खंडों से हजारों की संख्या में महिलाएं प्रतिभाग करेंगी। मातृशक्ति सम्मेलन की तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी हिमांशु ने सोमवार को सभी विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें सम्मेलन को सफल बनाने को लेकर विचार विमर्श किया गया।

मातृशक्ति सम्मेलन में जनपद चमोली के पारंपरिक हैंडलूम, हैंडीक्राफ्ट, कताई-बुनाई, दुर्लभ भोजपत्र पर कैलीग्राफी, वैजयंती माला, लेन्टाना से उपयोगी सामग्री निर्माण को प्रदर्शित किया जाएगा। विश्व धरोहर रम्माण, नंदा गौरा की झांकी एवं स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। पर्यावरण संरक्षण को लेकर विश्व विख्यात चिपको आंदोलन पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। मुख्यमंत्री द्वारा जनपद की अनेक विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास के साथ ही विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को लाभ वितरण किया जाएगा। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि गौचर में आयोजित होने वाले मातृशक्ति सम्मेलन की सभी तैयारियां समय से पूरी की जाए। गौचर में मातृशक्ति सम्मेलन के दौरान यातायात, पार्किंग, शौचालय, सफाई एवं सुरक्षा व्यवस्था के सभी इंतजाम सुनिश्चित किए जाए।

इस मौके पर पुलिस अधीक्षक रेखा यादव, मुख्य विकास अधिकारी अभिनव शाह, अपर जिलाधिकारी डॉ. अभिषेक त्रिपाठी, एसडीएम संतोष कुमार पांडेय, मुख्य कोषाधिकारी मामूर जहां, परियोजना निदेशक आनंद सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी कुलदीप गैरोला सहित सभी विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।