कंट्रोल के माध्यम से कोतवाली पटेलनगर को चमन विहार कालोनी में एक नाबालिक युवती के अपहरण का प्रयास किये जाने की सूचना प्राप्त हुई, सूचना पर तत्काल क्षेत्राधिकारी सदर तथा प्रभारी निरीक्षक पटेलनगर मय पुलिस बल के मौके पर पहुँचे, घटना के सम्बंध में नाबालिक युवती से जानकारी करने पर उसके द्वारा बताया गया कि शाम करीब 07 बजे टयूशन से घर आते समय कार सवार 02 व्यक्तियों ने उसे खींचकर जबरदस्ती अपनी कार में बैठा लिया, जहां मौका देखकर वह किसी तरह कार से बाहर निकलकर भागने में सफल रही।

घटना की संवेदनशीलता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की गई, पुलिस की प्रारम्भिक जांच में ऐसी किसी घटना का होना तस्दीक नही हो पाया, किन्तु प्रकरण की संवेदनशीलता के दृष्टिगत पुलिस टीम द्वारा युवती के बतायेनुसार घटनास्थल व अन्य मार्गो के सीसीटीवी कैमरे चैक किये गये, किन्तु किसी भी सीसीटीवी फुटेज में ऐसी किसी घटना का होना नही पाया गया, जिस पर उक्त नाबालिग युवती की काउंसलिंग की गई तो उसके द्वारा बताया गया कि वह पूर्व में ओलम्पस हाईस्कूल में पढ़ती थी, परन्तु इस वर्ष उसके परिजनो द्वारा उसका दाखिला मांउट लिट्रा जी स्कूल में कराया गया। दिनांक 15-04-2024 को वह पहली बार उक्त स्कूल में गई थी, परन्तु कोई नया मित्र न होने के कारण उसका स्कूल में मन नही लगा तथा अपने पुराने स्कूल में दोबारा दाखिले के लिये उसने अपने परिजनो को स्कूल के पास टयूशन से आते समय 02 व्यक्तियों द्वारा कार से उसका अपहरण करने तथा मौका पाकर भाग जाने की झूठी सूचना दी गई थी।