नीतू निवासी ग्राम दुमरिया बस्ती थाना अमरपुर जिला बांका बिहार ने कोतवाली नगर हरिद्वार आकर तहरीर दी कि वह अपने बच्चों को नाई घाट में छोड़कर खाना लेने गई थी। ज़ब वापस लौटी तो 01 वर्षीय बच्चा गायब मिला। शिकायत पर कोतवाली नगर में मुकदमा अपराध संख्या 293/2024 धारा 363 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया।

बच्चे से सम्बन्धित गंभीर प्रकृति का मामला होने के चलते एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल द्वारा मामले को गंभीरतापूर्वक लेते हुए तत्काल टीमें गठित की गई और खुद की मॉनीटरिंग में पूरी कार्यवाही और प्रगति पर नजर बनाकर रखी गई।

सजग नेतृत्व में काम कर रही पुलिस टीमों ने तत्काल सक्रियता दिखाते हुए घटनास्थल पर पहुंचकर सीसीटीवी फुटेज देखना शुरू कर दिया। जिसमें लगभग 500 cctv फुटेज देखने पर उक्त बच्चे को एक व्यक्ति ले जाता हुआ दिखाई दिया। जिस पर एक पुलिस टीम जनपद मुजफ्फरनगर सहारनपुर व एक टीम रुड़की की तरफ तलाश हेतु भेजा गया। इस दौरान गुमशुदा बालक व संदिग्ध व्यक्ति का पंपलेट छपवाकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया /सोशल मीडिया/प्रिन्ट मीडिया के जरिए भी तलाश जारी रखी गई। में

मुखबिर की सूचना पर कलियर रूड़की रोड होटल कैनाल व्यू होटल के पास से गुमशुदा बालक व अपहरणकर्ता देवेंद्र व एक महिला को गिरफ्तार किया गया। गुमशुदा बालक थाने लाकर परिवारजन के सुपुर्द किया गया।

पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने बालक का अपहरण भिक्षावृत्ति एवं भविष्य में किसी जरूरतमंद को बच्चा बेचकर मुनाफाखोरी के लिए किया था। मुकदमा उपरोक्त में धारा 363ए/34 भा0द0वि की बढ़ोतरी की गई। आरोपियों को बाद आवश्यक कार्रवाई कर आज ही माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

कुछ दिन पूर्व भी हर की पैड़ी क्षेत्र से 3 वर्षीय बच्ची की सकुशल बरामद की करने के बाद मात्र 1 वर्षीय बच्चे को इतना जल्दी सकुशल बरामद करने पर हरिद्वार पुलिस प्रदेश के साथ-साथ पूरे देश में नाम कमा रही है।