हरिद्वार: अपर जिलाधिकारी(प्रशासन)/उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री पी0एल0 शाह ने बृहस्पतिवार को कलक्ट्रेट सभागार में 14वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस उत्सव, जिसका इस वर्ष विषय- ’’वोट जैसा कुछ नहीं, वोट जरूर डालेंगे हम’’ रखा गया है, के अवसर पर मतदाता शपथ-’’हम, भारत के नागरिक लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए यह शपथ लेते है कि हम अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखेंगे तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए, निर्भीक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे,’’ दिलाई।
अपर जिलाधिकारी(प्रशासन)/उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये बताया कि 25 जनवरी,1950 को चुनाव कराने के लिये भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी तथा वर्ष 2011 में भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना के 60 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर प्रति वर्ष मतदाता दिवस मनाये जाने का निर्णय लिया गया था, तभी से प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को मतदाता दिवस निरन्तर मनाया जा रहा है। उन्होंने इस मौके पर यह भी जानकारी दी कि जो युवा 01 जनवरी, 01 अप्रैल, 01 जुलाई तथा 01 अक्टूबर को 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर रहे हैं, वे अब वर्ष के इन चार तिथियों में अपना नाम मतदाता के रूप में दर्ज करा सकते हैं। उन्होंने सभी मतदाताओं से अपील की कि वे सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें।
कार्यक्रम के दौरान श्री अखिलेश नारायण सक्सेना, श्री अवधेश प्रताप सिंह, श्रीमती ऊषा सिंह, डॉ0 रमेश चन्द्र सचान को वरिष्ठ मतदाता के रूप में शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया तथा आंचल, श्वाति, गगन, मगन व दिशा को नये मतदाता के रूप में शामिल होने के प्रमाण पत्रों का वितरण किया गया। वरिष्ठ मतदाताओं ने कार्यक्रम में अपने अनुभव साझा करते हुये बताया कि हमें वोट डालने के बाद एक ताकत का एहसास होता है तथा हमें भारत का नागरिक होने पर गर्व है।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी(वित्त एवं राजस्व) श्री दीपेन्द्र सिंह नेगी, डिप्टी कलक्टर श्री मनीष सिंह, डिप्टी कलक्टर श्री लक्ष्मीराज चौहान, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अरूणेश पैन्यूली, आपदा प्रबन्धन अधिकारी श्रीमती मीरा रावत, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी श्री देवेन्द्र अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी श्री उदयवीर सिंह बर्थ्वाल सहित कलक्ट्रेट के समस्त कार्मिक उपस्थित थे।